राज्यसभा में पारित हुए किसानों की आय में वृद्धि और जीवन में खुशहाली लाने वाले दो कृषि बिल, इसका विरोध क्यों?   |   बिहार विधानसभा चुनाव टालने को लेकर सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर   |   FATF ब्लैकलिस्ट होने के डर से पाक ने स्वीकार किया दाऊद पाकिस्तान में है   |   जो मुझे गालियां देते हैं और मेरी आलोचना करते हैं, उनका भी हार्दिक अभिनंदन : गुप्तेश्वर पाण्डेय   |   बिहार की राजनीति में बड़ा बवाल : श्याम रजक जदयू से निष्कासित, मंत्री पद भी गया   |   सलमान खान, महेश भट्ट और करण जौहर समेत 8 फिल्मी हस्तियों के खिलाफ पुनर्विचार याचिका दायर, 18 अगस्त को सुनवाई   |   डीएमआरसी ने यमुना नदी पर 5वें पुल का निर्माण कार्य शुरू किया   |   यूपी के कैबिनेट मंत्री पूर्व क्रिकेटर चेतन चौहान का निधन   |   राजद ने अपने 3 विधायकों को पार्टी विरोधी गतिविधियों में संलिप्तता के कारण किया बर्खास्त   |   नीतीश सरकार के मंत्री श्याम रजक जा सकते है राजद के पाले में   |  
राजनीतिक समाचार
पीएम मोदी के बाद ममता का ऐलान, पश्चिम बंगाल में जून 2021 तक बंटेगा मुफ्त राशन
west Bangal |

विभोर गौड़, नई दिल्ली। पीएम मोदी की देश भर मेंगरीबों के लिए अगले पांच महीनों तक मुफ्त अनाज वितरण के ऐलान के कुछ ही देर बादपश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भी इस होड़ में आगे निकलते हुए 2021में जून तक मुफ्त अनाज बांटने का ऐलान कर दिया। इसे केंद्र के साथ उनके अनोखेझगड़े के तौर पर देखा जा रहा है। हालांकि ममता बनर्जी ने पूरे राज्य में कोरोना सेअपने ही अंदाज में लड़ने के लिए कई ऐलान भी किए हैं।

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममताबनर्जी और दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल की बोलियां पूरे देश के बाकी सभी राज्योंसे हमेशा अलग ही चलती हैं। यहां तक कि पंजाब में कांग्रेसी मुख्यमंत्री कैप्टनअमरिंदर सिंह भी इस तरह की अजब-गजब बातों के लिए कभी नहीं जाने जाते। कट्टरकांग्रेसी होने के बाद भी उनकी इमेज एक बेहद सुलझे हुए राजनेता की बनी रहती है।मगर बंगाली मुख्यमंत्री ममता बनर्जी केंद्र से पंगा लेने का कोई मौका नहीं छोड़नाचाहती हैं। मंगलवार को बहु प्रतीक्षित पीएम मोदी के राष्ट्र के नाम संबोधन में मोदीने देश भर में छठ पूजा यानी अगले पांच महीनों तक 8 करोड़ जनता को मुफ्त में अनाजबांटने का ऐलान किया।

मोदी के संबोधनपर प्रतिक्रिया देते हुए मुख्यमंत्रीममता बनर्जी ने कहा कि प्रधानमंत्री की योजना में 60 फीसदी लोगों को ही राशन मिलरहा है, जबकि130 करोड़ लोगों को राशन दिया जाना चाहिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में खाद्यसाथी से जुड़े सभी लोगों को अगले वर्ष जून तक राशन मिलेगा। बाकियों को देने पर भीजल्द फैसला ले लिया जायेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि केंद्र जो 100 फीसदी लोगों कोराशन देने की बात कहती है वह सरासर गलत है। केंद्र आज राशन दे रहा है कल नहीं देगा।वह अगले वर्ष जून यानी जून, 2021 तक खाद्यसाथी से जुड़े लोगों को राशन देंगी। इसके बंगाल में दिया जाने वाला अनाज, केंद्रके अनाज के मुकाबले बेहतर है।

राज्य में शादी और श्राद्ध कर्म में 50लोगों को शामिल होने की मंजूरी है। सुबह साढ़े 5.30 से 8 बजे तक मॉर्निंग वॉक कीअनुमति है मगर इस दौरान सोशल डिस्टैंसिंग का पालन हर हाल करने की हिदायत है।

back
next
दिनांक : 01 July 2020 12:21:01 द्वारा : GNN Bureau पसंद करे :
शेयर करे :
TAGS : # ममता बनर्जी , # पश्चिम बंगाल , # पीएम मोदी , # कोरोना वायरस , # covid 19 , # corona virus , # west bangal , # mamta banerji
एक नजर यहाँ भी
SamacharPatr