दिल्ली एनसीआर ने फिर महसूस किए झटके , भूकंप की तीव्रता 4.7   |   चीन की सीमा पर पहुंचे मोदी को देखकर सैनिकों का हौंसला पहाड़ की ऊंचाइयों पर   |   वायूसेना में होगी लड़ाकू विमान राफेल की एंट्री, इसी महीने पहुंचेगी पहली खेप   |   पीएम मोदी के बाद ममता का ऐलान, पश्चिम बंगाल में जून 2021 तक बंटेगा मुफ्त राशन   |   डिफेंस मिनिस्टर राजनाथ सिंह का चीनी रक्षामंत्री वेई फेंग से मुलाकात से इंकार   |   कोरोना की दवाई कोरोनिल के विज्ञापन पर रोक के बाद सामने आए आचार्य बाल कृष्ण   |   कानपुर-राजकीय बालिका ग्रह में 57 संवासिनियों में कोरोना संक्रमण की पुष्टी हुई   |   पुरुष के शव पर महिला का सिर, अंग दान केंद्र की खौफनाक तस्वीर   |   कांवड़ यात्रा कि वजह से गाजियाबाद और मेरठ के स्कूल-कॉलेज 30 जुलाई तक रहेंगे बंद   |   सात जिलों में पानी का स्तर बढ़ने से मरने वालो कि संख्या बरती ही जा रही है   |  
इंडोनेशिया हो रहे चुनाव में विडोडो फिर दूसरी बार राष्ट्रपति बनने के लिए तैयार हुए
GNN Bureau| इंडोनेशिया में राष्ट्रपति चुनाव के शुरुआती रुझानों के अनुसार राष्ट्रपति जोको विडोडो दोबारा चुनाव जीत सकते हैं। विडोडो अपने प्रतिद्वंदी और राष्ट्रवादी नेता प्राबोवो सुबियांतो के खिलाफ स्पष्ट तौर पर बढ़त लिए दिख रहे हैं। सुबियांतो इससे पहले सुहार्तो के सैन्य शासनकाल में सेना के जनरल थे।

इंडोनेशिया में राष्ट्रपति चुनाव के बुधवार को आए शुरुआती नतीजों के मुताबिक मौजूदा राष्ट्रपति जोको विडोडो जीत दर्ज कर रहे हैं। वह 5 साल के लिए दोबारा इस पद की जिम्मेदारी संभालने के लिए तैयार हैं। 5 स्वतंत्र सर्वेक्षण समूहों के अनुसार विडोडो अपने प्रतिद्वंदी और राष्ट्रवादी नेता प्राबोवो सुबियांतो के खिलाफ स्पष्ट तौर पर बढ़त लिए दिख रहे हैं। 
सुबियांतो, सुहार्तो के सैन्य शासन में सेना के जनरल थे। इन सर्वेक्षण संगठनों ने चुनिंदा मतदान केंद्रों के नमूने लेकर वोटों की एक त्वरित गणना की है। पिछले चुनावों में भी इनके आकलन भरोसेमंद साबित हुए हैं। नमूना मतदान केंद्रों के 80 प्रतिशत का औसत विडोडो को 54 से 56 प्रतिशत वोट मिलते दिखा रहा है। यह उन्हें 2014 में मिले मत प्रतिशत से बेहतर स्थिति है। 
पढ़ें: इंडोनेशिया में राष्ट्रपति, संसदीय प्रतिनिधियों के लिए मतदान 
दुनिया की सबसे ज्यादा मुस्लिम आबादी वाले देश इंडोनेशिया को 2030 तक दुनिया की प्रमुख अर्थव्यवस्थाओं में शामिल होने की उम्मीद है। विडोडो का दूसरा कार्यकाल देश के लोकतांत्रीकरण की 2 दशक की यात्रा को और मजबूत बना सकता है। विडोडो पहले ऐसे इंडोनेशियाई राष्ट्रपति हैं जो जकार्ता के कुलीन वर्ग से नहीं आते हैं। मतदान खत्म होने के कुछ घंटो बाद ही अपने समर्थकों को संबोधित करते हुए विडोडो ने कहा कि उन्हें अपनी बढ़त का अनुमान है। उन्होंने राष्ट्र से आग्रह किया कि चुनाव अभियान के विभाजन के बाद अब वह फिर से एकजुट हो जाए। 
उन्होंने कहा कि एक्जिट पोल के अनुमानों और त्वरित गणना के मुताबिक भी हम सब देख सकते हैं। लेकिन हमें चुनाव आयोग द्वारा आधिकारिक निर्णय की घोषणा करने तक धैर्य रखना चाहिए। वर्ष 2014 में भी सुबियांतो, विडोडो से राष्ट्रपति चुनाव हार गए थे। बोर्नियो के जंगलों से लेकर जकार्ता की बस्तियों तक करीब 17,000 द्वीपों में 8,00,000 मतदान केंद्रों पर इंडोनेशिया के राष्ट्रपति पद और सांसदों के चुनाव के लिए बुधवार को मतदान हुआ। इंडोनेशिया में करीब 19 करोड़ से अधिक मतदाताओं ने ढांचागत परियोजनाओं के लिए सराहे जा रहे निवर्तमान राष्ट्रपति विडोडो और पूर्व सेना प्रमुख सुबियांतो में से एक को चुनने के लिए यह मतदान किया। 
back
next
दिनांक : 18 April 2019 10:43:57 द्वारा : GNN Bureau पसंद करे :
शेयर करे :
TAGS : # इंडोनेशिया , # चुनाव , # विडोडो , # राष्ट्रपति
एक नजर यहाँ भी
SamacharPatr